National Institute of Plant Genome Research
Digital India     
 
वैज्ञानिक प्रभारी: डॉ. मुकेश जैन
संक्षिप्त अवलोकन
डीएनए माइक्रोएरे "प्रोब्स" नामक डीएनए अणुओं से मिलकर बनता है, जो सूक्ष्म स्तर पर एक ठोस समर्थन पर जैसे कि एक झिल्ली या काँच की एक सूक्ष्मदर्शी स्लाइड के रूप में व्यवस्थित होते हैं| सरणी तत्व (एरे एलेमेंट्स ) विशेष रूप से आर एन ए /डी एन ए वाले लेबल अणुओं से बंधे होते हैं, "लक्ष्य", संकेत उत्पन्न करते हैं, जो लक्ष्य अणुओं की पहचान और सांद्रता प्रकट करते हैं| माइक्रोएरे विश्लेषण में एक व्यापक श्रेणी के अनुप्रयोग हैं जिसमे विभिन्न प्रकार के प्रोब्स और/या लक्ष्य शामिल है| डीएनए माइक्रोएरे विश्लेषण एक तेज और बहुमुखी जीन अभिव्यक्ति, जीनोम संरचना, और जीन के कार्यों के उच्च प्रवाह क्षमता अन्वेषणों को प्राप्त करने का दृष्टिकोण है|
उपकरण
अफ्फीमेट्रिक्स जीनचिप ७ जी माइक्रोएरे प्रणाली
अजिलेंट संकरण प्रणाली
जीन पिक्स ४००० बी स्कैनर
प्रोटोकॉल और टयूटोरियल्स
प्रोटोकॉल और टयूटोरियल्स
नमूना प्रस्तुत फार्म